चिंतन शिविर या सत्ता में रहते बटोरे गये धन का प्रदर्शन - झज्ज



जगदलपुर। जिला महिला कांग्रेस की अध्यक्ष श्रीमती कमल झज्ज ने यहां भाजपा द्वारा आयोजित चिंतन शिविर पर कटाक्ष करते हुए भाजपा की प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी से प्रति प्रश्न किया है की यह उनका चिंतन शिविर है या फिर छत्तीसगढ़ में पंद्रह वर्षों की सत्ता के दरमियान बेहिसाब  बटोरे गए धन का बेढब प्रदर्शन है। ज्ञात हो कि बस्तर के संभागीय मुख्यालय जगदलपुर में भाजपा द्वारा  स्टार सुविधा वाले एक होटल में चिंतन शिविर का आयोजन किया गया है। इस शिविर  आम कार्यकर्ताओं को प्रवेश नहीं दिया गया है।

श्रीमती झज्ज द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार गत विधान सभा चुनाव में बस्तर से भाजपा का सूपड़ा साफ हो गया था। ऐसे में इस प्रकार के  और विलासिता पूर्ण चिंतन  शिविर के आयोजन का  औचित्य बस्तर वासियों के समझ से परे है। 

आज यहां जारी विज्ञप्ति में आगे कहा गया है कि देश की जनता महंगाई से त्रस्त है। रसोई गैस के बढ़ते दाम महिलाओं की रसोई का स्वाद बिगाड़ रहे है। वास्तव में केंद्र की मोदी सरकार और उनकी पार्टी भाजपा मस्त एवं जनता त्रस्त है। उन्होंने भाजपा की बस्तर प्रभारी श्रीमती डी पुरंदेश्वरी से यह भी सवाल किया है कि वह बस्तर में पराजय के कारणों की समीक्षा करने आई हैं या कांग्रेस क्या घटित हो रहा है उसकी की खबर लेने। उन्होंने यह भी दावा किया है कि आज भी जनता कांग्रेस के साथ है और कल भी कांग्रेस के साथ रहेगी।


वैसे एक बात स्पष्ट है कि हमारे कांग्रेस परिवार का छोटे से छोटा कार्यकर्ता हर शिविर का हिस्सा होता है। यही कारण है कि कांग्रेस पार्टी के बैठकों में छोटे से छोटे कार्यकर्ताओं को यथोचित सम्मान मिलता है जबकि भारतीय जनता पार्टी अपने चिंतन शिविर में कद के हिसाब से नेताओं और कार्यकर्ताओं को आमंत्रित करती है जो कि लोकतंत्र में ऐसे आयोजन को बेहद हास्यास्पद बना देते हैं।जनता अब  जाग चुकी है और चाउर वाले बाबा को भूल चुकी है।